इंदौर गोलीकांड आरोपियों को कोर्ट ने 28 तक पुलिस रिमांड पर

इंदौर
 भोपाल बायपास से इंदौर पुलिस (Indore Police) की गिरफ्त में आये शराब सिंडिकेट गोलीकांड के दोनों आरोपियों को 28 जुलाई तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। बतादें कि इंदौर (Indore) में शराब कारोबारी अर्जुन ठाकुर पर हुए गोली हत्याकांड मामले में मुख्य दो लिस्टेट बदमाश चिंटू ठाकुर और सतीश भाऊ को गिरफ्तार कर गुरुवार को जिला न्यायालय (District Court) में पेश किया गया। जिला न्यायालय से पुलिस द्वारा दोनों ही बदमाशों से पूछताछ के लिए 28 जुलाई तक का रिमांड मांगा गया था जिसे न्यायालय ने स्वीकार कर लिया। गुरुवार को कोर्ट में पेश में किये गए दोनों ही आरोपियों के मामले में रिमांड पर आरोपियों के नियमित मेडिकल जांच को ध्यान रखना पुलिस को आवश्यक है।

दरअसल, इंदौर के विजय नगर थाना क्षेत्र स्थित स्कीम नंबर 74 में स्थित शराब सिंडिकेट ऑफिस में सोमवार दोपहर को शराब कारोबारी अर्जुन ठाकुर व अन्य लोगों के साथ समझौते के लिए बैठक आयोजित की गई थी। तब ही बैठक के दौरान मौजूद कुख्यात बदमाश सतीश भाऊ, हेमू ठाकुर और चिंटू ठाकुर सहित अन्य बदमाशों द्वारा अचानक से हवाई फायरिंग करते हुए हमला कर दिया गया था। जिसमें से एक गोली शराब कारोबारी अर्जुन ठाकुर को जा लगी। घायल अर्जुन को नजदीकी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। जहां पुलिस ने घायल के बयान लेकर हेमू ठाकुर, चिंटू ठाकुर सहित लिस्टेड बदमाश सतीश भाऊ के खिलाफ नामजद प्रकरण दर्ज करते हुए चार से पांच अन्य लोगों के खिलाफ भी प्रकरण दर्ज किया था। घटना के बाद से ही फरार चल रहे सभी बदमाशों की तलाश के लिए पुलिस द्वारा करीब 6 टीमें बनाई गई थी इन छह टीमों के साथ ही पुलिस ने बुधवार सुबह तड़के भोपाल बायपास से चिंटू ठाकुर व सतीश भाऊ को गिरफ्तार कर इंदौर लेकर पहुंची थी। जिनके 24 घंटे पूर्ण होने पर आज विजय नगर पुलिस द्वारा दोनों ही गिरफ्तार बदमाशों को जिला न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय में गैंगवार सहित अन्य अप्रिय घटना को ध्यान में रखते हुए काफी पुलिस बल तैनात किया गया था।

दोनों ही लिस्टेड बदमाशों को जिला न्यायालय में पेश कर पुलिस ने घटना के बारे में पूछताछ और उपयोग मे लाये गए हथियारों को जब्त करने के उद्देश्य से रिमांड की पेशकश की थी। जिसके बाद जिला न्यायालय ने आरोपियों को पूछताछ के लिए 28 जुलाई तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। वहीं आरोपियों की ओर से लगाई गई रिमांड आपत्ति पर जिला न्यायालय द्वारा दोनों ही बदमाशों को स्वास्थ्य सुविधाएं सहित मेडिकल की सुविधा उपलब्ध कराने की बात भी कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *