दवा कारोबारी हुआ ठगी का शिकार

रायपुर
मार्केट में जो दवा आसानी से उपलब्ध नहीं है उसे उपलब्ध करा देने का झांसा अज्ञात व्यक्ति ने एक दवा कारोबारी को दिया,कारोबारी अंदाजा नहीं लगा पाया कि उसे ठगा जा रहा है। चार लाख रुपए एडवांस के रूप में अपने खाते में जमा करवा लिया। अब न दो दवा मिला और न ही पैसा,इसलिए कि फोनधारी का फोन ही बंद हो गया।  शिकायत पर सिविल लाईन पुलिस ने मोबाइल धारक के खिलाफ 420, 34 के तहत धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

सिविल लाइन पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शिव मंदिर के पास कटोरातालाब में कुणाल बजाज का दवाई का दुकान है। 20 फरवरी को कुणाल बजाज और उसके जीजा को 72470-62284 और 91718-96003 से कॉल आया कि जो  दवाई मार्केट में उपलब्ध नही है उसे वे उपलब्ध करा सकते है, इसके लिए उसे उनके बताए हुए खाता नंबर पर पैसे भेजने होंगे। प्रलोभन में आकर कुणाल ने अपने खाते से 3 लाख 99 हजार रुपए उसके बैंक में जमा कर दिए। लेकिन आज 4 दिन बीत जाने के बाद भी दिए गए आर्डर की दवाई उपलब्ध नहीं होने के कारण सिविल लाइन थाने में 72470-62284 और 91718-96003 के धारक के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। इससे पहले कुणाल  ने दोनों के मोबाइल पर संपर्क करने की कोशिश किया लेकिन नंबर बंद आ रहा था। फिलहाल पुलिस ने अज्ञात मोबाइल धारकों के खिलाफ  धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *