युद्ध के 67वें दिन जेलेंस्की ने पलटी बाजी, 23000 सैनिकों को मारने का दावा, बौखलाए पुतिन करेंगे चौतरफा हमला

मॉस्को/कीव
यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने युद्ध के बीच रूस के सैनिकों को एक संदेश भेजा है। ये संदेश नहीं, एक तरह की चेतावनी है, जिसमें उन्होंने साफ तौर पर कहा है, कि वो रूसी सैनिक जो युद्ध लड़ने के लिए यूक्नेन आए हैं, वो अभी भी अपनी जान बचा सकते हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति ने दावा किया है, कि उनकी देश की सेना ने अभी तक 23 हजार से ज्यादा रूसी सैनिकों को मार दिया है। इस बीच खबर ये है, कि कैंसर से जूझ रहे रूसी राष्ट्रपति अगले कुछ दिनों में अपनी शक्तियां अपने भरोसेमंद जासूस को सौंप सकते हैं। जेलेंस्की की चेतावनी यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने देर रात एक वीडियो संदेश जारी किया है, जिसमें उन्होंने रूसी सैनिकों से एक बार फिर से अपनी जान बचाने के लिए सरेंडर कर देने का आग्रह किया है। जेलेंस्की ने अपने संबोधन में कहा है कि, हर रूसी सैनिक अभी भी अपनी जिंदगी बचा सकता है। उन्होंने रूसी सैनिकों को चेतावनी देते हुए कहा कि, आपके लिए रूस में जिंदा रहने से बेहतर है, कि आप हमारी जमीन पर नष्ट हो जाएं। आपको बता दें कि, यूक्रेन युद्ध का तीसरा महीना चल रहा है और युद्ध के 67वें दिन यूक्रेनी राष्ट्रपति ने रूस के 23 हजार सैनिकों को मारने का दावा किया है। यूक्रेन के राष्ट्रपति का कहना है कि रूस ने इसे "मूर्खतापूर्ण युद्ध" में 23,000 से ज्यादा सैनिकों को खो दिया है।

तुर्की ने दिया बड़ा प्रस्ताव वहीं, तुर्की के राष्ट्रपति के प्रवक्ता इब्राहिम कालिन ने ज़ेलेंस्की के साथ बैठक के बाद यूक्रेन में संघर्ष को समाप्त करने के लिए "महान प्रयास" का वादा किया है। कलिन ने तुर्की की अनादोलु समाचार एजेंसी को बताया कि, "इस्तांबुल शांति प्रक्रिया को जारी रखना चाहता है, और इस युद्ध को समाप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है," उन्होंने कहा कि, "हम अभी भी युद्ध को समाप्त करने के लिए बहुत प्रयास करना जारी रखेंगे। क्योंकि इस युद्ध में कोई विजेता नहीं होगा। यूक्रेन और रूस, दोनों इस युद्ध में हारेंगे।" हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि, 'रूस द्वारा लगातार किए जा रहे हमलों से शांति वार्ता प्रभावित होती है'। यूक्रेन युद्ध से अधर में यूरोप का भविष्य प्रमुख यूरोपीय देश मोल्दोवा के विदेश मंत्री निकू पोपेस्कु ने कहा है कि, यूरोप का भविष्य इस बात पर निर्भर करता है कि यूक्रेन में युद्ध कैसे समाप्त होता है। पोपेस्कु ने ब्रिटिश ब्रॉडकास्टर स्काई न्यूज को बताया कि, 'मुझे लगता है कि पूरे महाद्वीप का भविष्य यूक्रेन की अपनी राजनीतिक व्यवस्था, अपने देश, इसके लचीलेपन को बनाए रखने की क्षमता पर टिका हुआ है'।

मोल्दोवा यूक्रेन में संघर्ष को करीब से देख रहा है, विशेष रूप से एक वरिष्ठ रूसी सैन्य अधिकारी ने कहा कि, रूसी सेना का लक्ष्य दक्षिणी यूक्रेन पर पूर्ण नियंत्रण हासिल रखना है और इस कदम से ट्रांसनिस्ट्रिया के अलगाववादी क्षेत्र में एक ह्यूमन कॉरीडोर भी खुल जाएगा, जहां रूसी सैनिक तैनात हैं। आपको बता दें कि, मोल्दोवा और यूक्रेन के बीच एक बड़ा ढेक्ष है, जहां करीब 470,000 लोग रहते हैं, जिसे ट्रांसनिस्ट्रिया कहा जाता है और 1992 के युद्ध के बाद से ये क्षेत्र रूसी अलगाववादी अधिकारियों के नियंत्रण में है। स्वीडन पर आक्रमण करेगा रूस? यूक्रेन युद्ध का दो महीने बीतने के बाद भी भले ही कोई नतीजा क्यों ना निकल पाया है, लेकिन रूस ने स्वीडन को धमकाना भी शुरू कर दिया है, क्योंकि, रूस के पड़ोसी देश स्वीडन और फिनलैंड भी नाटो की सदस्यता लेने की कोशिश कर रहे हैं। स्वीडिश रक्षा अधिकारियों ने दावा किया है कि, एक रूसी जासूसी विमान ने स्वीडन के हवाई क्षेत्र का उल्लंघन किया है।

 आपको बता दें कि, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने स्वीडन और फिनलैंड को साफ तौर पर धमकी दे रखी है, कि अगर ये देश नाटो की सदस्यता लेने की कोशिश करते हैं, तो इन देशों के खिलाफ भी उसी तरह का सैन्य अभियान चलाया जाएगा, जैसा यूक्रेन में चलाया जा रहा है। स्वीडिश रक्षा मंत्रालय ने शनिवार शाम एक बयान में कहा, "एक रूसी एएन-30 प्रोपेलर विमान ने शुक्रवार शाम स्वीडिश हवाई क्षेत्र का उल्लंघन किया है।" ओडेसा रनवे को रूस ने किया बर्बाद वहीं, यूक्रेन के तीसरे सबसे बड़े शहर ओडेसा में एक रूसी मिसाइल हमले ने हवाई अड्डे के रनवे को नष्ट कर दिया है। ओडेसा शहर यूक्रेन का रणनीतिक तौर पर काफी प्रमुख शहर है, क्योंकि ये काला सागर से जुड़ता है। एक टेलीग्राम पोस्ट में, यूक्रेन के ऑपरेशनल कमांड साउथ ने कहा कि, मिसाइल हमले के परिणामस्वरूप ओडेसा रनवे बर्बाद हो गया है।

वहीं, स्थानीय अधिकारियों ने क्षेत्र के निवासियों से सुरक्षित जगहों पर शरण लेने का आग्रह किया है, क्योंकि यूक्रेनी समाचार एजेंसी यूएनआईएएन ने सेना के सूत्रों का हवाला देते हुए बताया कि, ओडेसा में "कई" विस्फोटों को सुना गया है। ओडेसा के क्षेत्रीय गवर्नर ने कहा कि मिसाइल को रूस के कब्जे वाले क्रीमिया से दागा गया था। मैक्सिम मार्चेंको ने कहा कि किसी के घायल होने की कोई खबर नहीं है। रूसी सेना को भारी नुकसान का दावा यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने दावा किया है कि, यूक्रेनी सेना पहले ही 1,000 से ज्यादा रूसी टैंकों, करीब 200 रूसी विमानों और लगभग 2,500 बख्तरबंद लड़ाकू वाहनों को नष्ट कर चुकी है। हालांकि, यूक्रेन के राष्ट्रपति ने दावा किया है कि, इसके बाद भी रूस अभी और भी खतरनाक हमला करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

uttar pradesh election result || uttar pradesh election new video || uttar pradesh latest update