गोल्ड हॉलमार्किंग का दूसरा चरण 1 जून से होगा शुरू

 नई दिल्ली। गोल्ड हॉलमार्किंग का दूसरा चरण साल 2022 में एक जून से शुरू किया जाएगा. सरकार ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी है. सरकार के मुताबिक एक जून 2022 से गोल्ड हॉलमार्किंग  के दूसरे चरण को शुरू कर दिया जाएगा. जिसके तहत सोने की शुद्धता का प्रमाण करना किया जाएगा.

रिपोर्ट के मुताबिक उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने कहा कि अनिवार्य हॉलमार्किंग के दूसरे चरण के दायरे में स्वर्ण आभूषणों के तीन अतिरिक्त कैरेट (20, 23 और 24 कैरेट) के अलावा 32 नए जिले आएंगे. जहां पहले चरण के क्रियान्वयन के बाद एक ‘परख एवं हॉलमार्क केंद्र (एएचसी)’ स्थापित किया गया है.

वहीं पहले चरण के अंतर्गत नोडल एजेंसी ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड (बीआईएस) ने 23 जून 2021 से देश के 256 जिलों में अनिवार्य गोल्ड हॉलमार्किंग को सफलतापूर्वक लागू कर दिया है. जहां हर दिन हॉलमार्क यूनिक आइडेंटिफिकेशन (एचयूआईडी) के साथ 3 लाख से अधिक सोने की वस्तुओं की हॉलमार्किंग की जा रही है.

उपभोक्ताओं के लिए होगा फायदेमंद

एएचसी प्राथमिकता के आधार पर आम उपभोक्ताओं से सोने के आभूषणों का परीक्षण करेगा और उपभोक्ता को एक परीक्षण रिपोर्ट प्रदान करेगा. इसमें कहा गया है कि उपभोक्ता को जारी की गई जांच रिपोर्ट उपभोक्ता को उनके आभूषणों की शुद्धता के बारे में आश्वस्त करेगी और अगर उपभोक्ता अपने पास पड़े आभूषण को बेचना चाहता है तो यह भी उपयोगी होगा.

रिपोर्ट में कहा गया है कि 4 वस्तुओं तक के सोने के आभूषणों के परीक्षण का शुल्क 200 रुपये है. 5 या अधिक वस्तुओं के लिए शुल्क 45 रुपये प्रति वस्तु है. इसमें कहा गया है कि उपभोक्ताओं द्वारा खरीदे गए एचयूआईडी नंबर वाले हॉलमार्क वाले सोने के आभूषणों की प्रामाणिकता और शुद्धता को बीआईएस केयर ऐप में 'वेरीफाई एचयूआईडी' का उपयोग करके भी सत्यापित किया जा सकता है, जिसे प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

uttar pradesh election result || uttar pradesh election new video || uttar pradesh latest update