सर्दियों में इम्‍यूनिटी बढ़ाने के साथ स्‍वस्‍थ्‍य के लिए फायदेंमद हो सकती है मसाला चाय

दोंस्‍तों सर्दियों का मौसम आ गया है और इस सर्द मौसम में लगभग चाय सभी के लिए वेस्‍ट आप्‍सन हो सकती है । सर्दियों में चाय हमारें शरीर अंदर से गर्मी प्रदान करती है । कोरोनाकाल में लोग अदरक की चाय पीना ज्यादा पसंद कर रहे हैं। अदरक वाली चाय की चुस्की सर्दी से बचाने के साथ ही इम्यूनिटी भी इम्प्रूव करेगी। लोग इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए तरह-तरह के काढ़े का सेवन कर रहे है, लेकिन आप चाय पीने के शौकीन है तो हम आपको आज ऐसी चाय की रेसिपी बताते हैं जो सर्दी, जुकाम से आपकी हिफाजत करेगी साथ ही इम्यूनिटी बढ़ाने में भी मददगार है। ये मसाला चाय सेहत के लिहाज से जितनी असरदार है उतनी ही पीने में स्वादिष्ठ भी है। आइए जानते हैं कि घर में मसाला चाय कैसे तैयार करें।

मसाला चाय के लिए आवश्यक सामग्री:

मसाला चाय पाउडर को बनाने के लिए आप हरी इलायची 4 tbsp, काली मिर्च 2 tbsp, लौंग 2 tbsp,4 काली इलायची, दालचीनी 5 ग्राम, जायफल 1/2 टुकड़ा, सौंफ़ 1 tbsp, शराब 1 tbsp, 2 बड़े चम्मच तुलसी के पत्ते , तुलसी के बीज 1 बड़ा चम्मच, सूखी अदरक पाउडर 3 बड़े चम्मच।
मसाला चाय पाउडर कैसे बनाये:

सभी सामग्रियों को सूखा भूनें और उन्हें ठंडा होने दें। जब ये ठंडा हो जाए तो अच्छी तरह से पीसकर एक सूखे और साफ जार में स्टोर करें। यह मसाला चाय पाउडर 4-6 महीने तक फ्रेश रह सकता है।

इम्यूनिटी बूस्ट करने वाली मसाला चाय घर में कैसे तैयार करें:

चाय बनाने के लिए पैन लें और उसमें 2.5 कप पानी डालें। इसमें 2 कप दूध और स्वादानुसार चीनी डालें। इसे उबलने दें और इसमें 2 चमचे चाय की पत्ती और 1चमचा मसाला टी पाउडर डालें। इसे 4-5 मिनट तक पकाएं। पांच मिनट बाद गैस बंद कर दें और चाय छान कर उसका सेवन करें। आपकी इम्युनिटी बढ़ाने वाली मसाला चाय तैयार है।

ये इम्यूनिटी कैसे बढ़ाती हैं साथ ही फ्लों से कैसे लड़ती है:

भारतीय मसाले पोषक तत्वों का सबसे बड़ा खजाना हैं जो शरीर को सभी मौसमी बैक्टीरिया से बचाने में मदद करते हैं। जहां तक सर्दी के मौसम का सवाल है तो लौंग को फ्लू के लक्षणों से लड़ने के लिए एक पारंपरिक घरेलू उपचार माना जाता है। यह एंटीऑक्सिडेंट गुणों से भरपूर है, इसमें एंटीवायरल गुण भी मौजूद हैं। इसके अलावा, दालचीनी एंटीऑक्सिडेंट गुणों से भरपूर है और शरीर को विभिन्न प्रकार के संक्रमणों और एलर्जी से बचाने में मददगार है।

काली मिर्च के जीवाणुरोधी गुण सर्दी और खांसी को ठीक करने में मदद करते हैं। यह छाती से बलगम को साफ करने में भी मदद करते है। काली मिर्च विटामिन सी से भी समृद्ध है जो एक अच्छे एंटीबायोटिक के रूप में काम करती है। तुलसी जो कई श्वसन विकारों के इलाज में मदद करती है। सर्दी और खांसी से लेकर ब्रोंकाइटिस तक का इलाज करती है तुलसी। इसके इम्यूनोमॉड्यूलेटरी गुण इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *